कर्नाटक में जनता दल सेक्यूलर (JDS) को बड़ा झटका लगा है. पार्टी के दो पूर्व विधायक आर मंजूनाथ और डी सी गौरीशंकर अपने समर्थकों के साथ बुधवार (15 नवंबर) को कर्नाटक में सत्तारूढ़ कांग्रेस में शामिल हो गए. इसके अलावा जेडीएस के वरिष्ठ नेता टी आर प्रसाद ने भी कांग्रेस का हाथ थाम लिया है.

गौरीशंकर तुमकुरु ग्रामीण से विधायक थे और मंजूनाथ ने शहर में दशरहल्ली विधानसभा सीट का प्रतिनिधित्व किया था.

सिद्धारमैया ने किया स्वागत
यह सभी मुख्यमंत्री सिद्धारमैया और डिप्टी सीएम डी के शिवकुमार की मौजूदगी में कांग्रेस में शामिल हुए. इस अवसर पर सिद्धारमैया ने उनका पार्टी में स्वागत किया और कहा कि जब इनको (जेडीएस नेताओं) पता चला कि जेडीएस सांप्रदायिक हो गई है तो उन्होंने पार्टी छोड़ दी.

डीके शिवकुमार ने की थी ऑपरेशन हस्त की घोषणा
गौरतलब है कि कर्नाटक के उपमुख्यमंत्री डीके शिवकुमार ने 8 नवंबर को ‘ऑपरेशन हस्त’ की घोषणा की थी. उन्होंने कहा था कि 15 नवंबर से विपक्षी दलों के नेताओं को कांग्रेस में शामिल किया जाएगा.

सिद्धारमैया ने भी किया था दावा
वहीं कर्नाटक में सीएम सिद्धारमैया ने भी बीजेपी और जेडीएस विधायकों के कांग्रेस में शामिल होने का दावा किया था. उन्होंने कहा था कि जल्द ही बीजेपी और जेडीएस विधायक कांग्रेस में शामिल होने वाले हैं. जो भी पार्टी में आया हम उसका स्वागत करेंगे.

कुमारस्वामी ने विधायकों और नेताओं के साथ बैठक की
मुख्यमंत्री और उपमुख्यमंत्री के दावों के बीचे कुमारस्वामी ने पार्टी मुख्यालय में विधायकों और पार्टी नेताओं की एक बैठक बुलाई और एकजुट रहने का संदेश दिया. बैठक में पार्टी के 19 में से 18 विधायक शामिल हुए थे. बैठक के बाद कुमारस्वामी ने कहा कि उनकी पार्टी का कोई भी नेता कांग्रेस में नहीं जाएगा.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here